News around you

संजय टण्डन शहर की जनता को बेवकूफ़ बनाना बंद करें: सोनिया गुरचरण सिंह

10 साल रही उनकी सांसद, तब हल नही हुए मुद्दे, अब वो किस मुंह से मांग रहे वोट

चंडीगढ़:-भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार संजय टण्डन शहर की जनता बेवकूफ़ बना रहे हैं। चुनाव जीतने के लिए झूठे आश्वासन दे रहे हैं कि चुनाव जीतने के बाद शहर की सभी मुद्दों और समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर हल करेंगे। क्या संजय टण्डन जी बता सकते हैं कि चंडीगढ़ में 10 साल भाजपा की सांसद रहीं, उन्होंने शहर के विकास के लिए कुछ नही किया, बल्कि शहर को 10 साल पीछे धकेल दिया। यह कहना है, चंडीगढ़ कांग्रेस की वार्ड नंबर 19 की ब्लॉक प्रेसिडेंट सोनिया गुरचरण सिंह का।S Gurch

एक पब्लिक मीटिंग को संबोधित करते हुए कहा कि चंडीगढ़ शहर के अहम मुद्दे हैं कि हाउसिंग बोर्ड के अधीन आने वाली सभी कॉलोनियों में वर्षों से रहने वालों को इसका मलिकानो हक मिलना चाहिए। शहर की सभी कॉलोनियों में सीलिंग प्रणाली को तुरंत प्रभाव से खत्म किया जाए। ताकि इन कॉलोनियों में रहने गरीब मजदूर परिवार आराम से बेफिक्री का जीवन जी सकें और अपना व अपने परिवार का अच्छे से भरण पोषण कर सकें।
उन्होंने कहा कि आज सभी विभागों में रेगुलर की जगह आउटसोर्सिंग पर कर्मचारियों की भर्ती होने लगी है। बल्कि यह ठेकेदारी प्रथा भी बंद होनी चाहिए। कॉलोनियो में बिजली-पानी के बिल भी ज्यादा आ रहे हैं, इन पर ध्यान दिया जाना चाहिए कि झुग्गी झोंपड़ी में दिहाड़ीदार मजदूर कैसे इतना बड़ा बिल चुकता करेगा। प्रॉपर्टी टैक्स का भी जो सिस्टम शुरू किया गया है, उसे भी तुरंत प्रभाव से रोक देना चाहिए। कॉलोनी नंबर 04 के जो लोग जिनका नाम लिस्ट में था, उन्हें पुनर्वासित नही किया गया, बल्कि भाजपा के इशारे पर उन्हें उजाड़ दिया गया। उनके पुनर्वास पर भी गंभीरता से विचार किया जाना चाहिए। सीनियर सिटीजन को दी जाने वाली पेंशन राशि 1000 रुपये से बढा कर 3000 रुपये कर दिया जाना चाहिए। क्योंकि महंगाई के इस दौर में 1000 रुपये से वृद्ध व्यक्ति क्या कर पायेगा। इससे ज्यादा तो दवाई में ही खर्च हो जाता है। वहीं वाल्मीकि समाज को बदनाम करने के लिए समाज के जिम्मेदार व्यक्ति को 68 लाख का नोटिस भेजा गया, जोकि अभी तक लंबित है और उसे खारिज करवाने के लिए प्रक्रिया ही नही शुरू की गई।
सोनिया गुरचरण सिंह ने आगे कहा कि संजय टण्डन जी अब इन मुद्दों को क्यों प्राथमिकता के आधार पर हल करवाएंगे। जब किरण खेर दो टर्म यहां रहीं, उन्होंने अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी किया, तब संजय टण्डन साथ ही थे। इनमें से कोई भी मुद्दा हल ही नही हो पाया। तो अब संजय टण्डन किस मुंह से शहर की जनता के बीच जाकर वोट मांग रहे हैं। शहर की जनता जाग चुकी है, अब इनके झूठे बहकावे में नही आएगी।                                                                                                                                                                                     (रोशन लाल की रिपोर्ट)

You might also like

Comments are closed.